Skip to main content

compiler kya hai | compiler meaning in hindi | कार्य

बहुत से स्टूडेंट्स को कम्पाइलर क्या है ? What is compiler in Hindi के बारे में बहुत काम नॉलेज होते है ,इसी को देख ते हुए इस लिख में compiler के बारे में डिटेल्स में समझाया है अगर आप एक टेक्निकल स्टूडेंट्स है तोह आपके लिए बहुत हे इम्पोर्टेन्ट टॉपिक हो सकता है और है यदि आप नॉन-टेक्निकल स्टूडेंट है तो आपके लिए भी इम्पोर्टेन्ट है


Technical students आगर programming language सिख रहे है तोह आपको कम्पाइलर के कार्य के बारे में पता होना चाहिए जैसे कम्पाइलर का क्या कार्य है


Compiler के बारे में simple भाषा में कहूं तो compiler एक program होता है जो एक source Language के जरुरत से मिलता हुआ एक target language में कन्वर्ट करता है और साथ में हाई लेवल लैंग्वेज को machine language में कन्वर्ट करता है इसके आलावा नीचे हम कम्पाइलर किसे कहते हैं इसके बारे में डिटेल्स में बताया है 



कम्पाइलर क्या है what is compiler in Hindi 


compiler meaning in hindi, compile meaning in hindi
कम्पाइलर एक कंप्यूटर सॉफ्टवेयर प्रोग्राम होता है कंप्यूटर प्रोग्राम की दो लैंग्वेज है पहले तो high level language जिसको एक developer में लिखा है और दूसरी low level language इन लैंग्वेज से आप किसी भी कंप्यूटर पर किसी भी प्रकार के कार्य कर सकते हैं

कम्पाइलर किसे कहते हैं compiler meaning in Hindi 


जैसे की आपको ऊपर पैराग्राफ में कम्पाइलर के बारे में easy language में define किया है ठीक उसी तरह अब जाते है “compiler meaning in Hindi ” कंपाइलर का एक special program है जो एक special program भाषा में लिखे गए बयानों को process  करता है

 और उन्हें machine language या  code  में बदल देता है जो कंप्यूटर के प्रोसेसर का उपयोग करता है।  आमतौर पर, एक programme एक संपादक का उपयोग करते हुए एक समय में पास्कल या सी एक लाइन जैसी भाषा में भाषा के statement लिखता है।  जो फ़ाइल बनाई जाती है, उसे source statement कहा जाता है।  

 Executing करते समय  कंपाइलर पहले भाषा के सभी statement को analysis करता है (या फिर एक के बाद एक या एक से अधिक serial platform में या फिर "पास"), सभी स्टेटमेंट को output code बनाता है,  

 स्टेटमेंट  अन्य statement को last  कोड में सही ढंग से reference किया गया है।   Compilation के आउटपुट को object code  या कभी-कभी object module कहा जाता है।

 Note :-   "object" शब्द object oriented प्रोग्रामिंग से संबंधित नहीं है।) ऑब्जेक्ट कोड मशीन कोड है जो प्रोसेसर एक बार में एक निर्देश निष्पादित कर सकता है।

 Java program language, ऑब्जेक्ट-ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग में इस्तेमाल की जाने वाली language, आउटपुट compilation  की संभावना को प्रस्तुत करती है (जिसे btycode  कहा जाता है) जो किसी भी computer system program पर चल सकती है जिसके लिए एक Java virtual machine या बायटेकोड interpreted को निर्देश में बाईटेकोड को बदलने के लिए प्रदान किया जाता है मुझे आशा है आपको “ compile meaning in Hindi ” अच्छे से समझ आया होगा  तो नेक्स्ट पढ़ते हैं इसके मेजर पार्ट के बारे में 🙂

Compiler के major parts के बारे में जानकारी


Compiler के main two parts है 
  1. Analysis phase 
  2. Synthetic phase 

compiler meaning in hindi, types of compilers
Analysis phase :- सब से पहले बात करते है analysis phase की इसमें given source program से intermediate representative को बनाया जाता है इस phase के main 3 पार्ट है जैसे की : - lexical ,syntax and semantic analysis 

Note :- lexical analysis , syntax analysis and semantic analysis को निचे एक्सप्लेन किया है कृपया ध्यान से पढ़े


Synthetic phase :- वही दूसरी और synthetic phase में immediate representative की मदद से equivalent target program को क्रिएट किया जाता है 

कम्पाइलर का क्या उपयोग है


Compilers का सबसे ज्यादा use 4 major steps में किया जाता है.
Scanning
Lexical analysis
Synthetic analysis
Semantic analysis

  • Lexical analysis

 Lexical analysis  compilation process  का पहला platform है।  यह input  के रूप में source code  लेता है।  यह एक समय में source program को एक character पढ़ता है और इसे सार्थक लेक्समेस में changed  करता है।  Lexical analysis टोकन के रूप में इन लेक्सेम का represention  करता है। 


  •  Synthetic analysis 

Synthetic analysis  compilation process का दूसरा platform है।  यह input  के रूप में token  लेता है और output  के रूप में एक पार्स ट्री बनाता है।  Synthetic  चरण में, पार्सर जाँचता है कि टोकन द्वारा बनाई गई

  • Semantic analysis 

 Semantic analysis  compilation process का तीसरा platform है।    सिमेंटिक एनालाइज़र पहचानकर्ताओं, उनके types or expression पर नज़र रखता है।  S
emantic चरण का आउटपुट एनोटेट ट्री सिंटैक्स है। click here more information compiler types 


संकलक का इतिहास | history of compiler 


 कम्पाइलर के इतिहास के important  इस प्रकार हैं:

 "कंपाइलर" शब्द का पहली बार इस्तमाल  1950 के शुरुआती दिनों में grace  murray hopper ने किया था

 पहला संकलक जॉन बैकम और उनके group द्वारा IBM में 1954 और 1957 के बीच बनाया गया था

 COBOL पहली programme language थी जिसे 1960 में कई platforms  पर compiled किया गया था

 स्कैनिंग और पार्सिंग issue का अध्ययन 1960 और 1970 के दशक में पूरा solution प्रदान करने के लिए किया गया था


निष्कर्ष :- तो दोस्तों अपने आज क्या सीखा , हमने इस लिख में compiler kya hai , compiler meaning in Hindi और इसकी टाइप्स के बारे में डिटेल्स में बताया है 


अगर आपको इनफार्मेशन अचे लगी हो तो अपने दोस्तों को ज़रूर शेयर करे ,और साथ में अपनी राय बताना न भूले कमेंट box में 😍

साथ में ऐसे ही मजेदार आर्टिकल के लिए हमारी वेबसाइट की सब्सक्राइब करना न भूलें धन्यवाद 😍

Comments

Popular posts from this blog

डिजिटल कंप्यूटर क्या है |डिजिटल कंप्यूटर के प्रकार | विशेषताएं, परिभाषा |

  हेलो दोस्तों कैसे हो मुझे आशा है कि आप सब ठीक ही होगे tech2v.in में आप सबका स्वागत है आज मैं इसमें आपको डिजिटल कंप्यूटर के बारे में बताऊंगा digital कंप्यूटर क्या है digital कंप्यूटर कितने प्रकार के होते हैं सब आज के आर्टिकल में आपको शेयर करूंगा । कंप्यूटर के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए बने रहे हमारे साथ और नीचे मैंने कंप्यूटर के बारे में सब जानकारी आपको शेयर किया है डिजिटल कंप्यूटर क्या है | what is digital computer in hindi | डिजिटल कंप्यूटर क्या है  डिजिटल कंप्यूटर बंद डेटा पर काम करता है।  वे डेटा को अंकों में बदलते हैं यानी बाइनरी अंक 0 और 1।  यहां तक ​​कि पत्र और कार्यों को भी बाइनरी मानों के रूप में कोडित किया गया है। यह संख्यात्मक और गैर-संख्यात्मक डेटा दोनों को संसाधित कर सकता है।  सभी ऑपरेशनों को गिनती और जोड़ने में विभाजित किया गया है।  एक डिजिटल कंप्यूटर की सटीकता केवल उसके रजिस्टरों और मेमोरी के आकार तक सीमित है।  एक डिजिटल कंप्यूटर का अनुप्रयोग क्षेत्र औद्योगिक प्रक्रिया नियंत्रण, व्यवसाय और वैज्ञानिक डेटा प्रसंस्करण है।   इसे भी पढ़िए :-   Computer

Whatsapp क्या है ? whatsapp की पूरी जानकारी in hindi 2021

क्या आप जानना चाहते हो whatsapp क्या है व्हाट्सप्प एक मोबाइल एप्लीकेशन है इस के प्रयोग से  आप टेक्स्ट मैसेज, ऑडियो ,इमेजेज और वीडियो अपने फ्रेंड जा रिश्तेदार को मेसेज कर सकते है फ्री में   मोबाइल sms  में तो आपको हर sms के पैसे लगते है मगर what's app पर आपको एक्स्ट्रा पर अगर आप किसी को मैसेज भेजते हो तो आपको उसके एक्स्ट्रा पैसे नहीं देने पड़ेंगे। Internet के माध्यम से आप इस सब मोबाइल फोन को whatsapp message कर सकते है जैसे की :- आईफोन , android, oneplus,  blackberry  जा फिर windows phones इस सब में आप message कर सकते है  बस चाहिए तो एक स्मर्टफ़ोने और डेटा प्लान  Whatsapp कब बना ?   और  डाउनलोड कैसे करें Whatsapp company  since 2009 में Brian Acton और Jan Koum ने शुरू की थी । और आज करीब 30 करोड़ से भी ज्यादा लोग whatsapp को यूज करते हैं व्हाट्सएप को गूगल प्ले स्टोर पर डाउनलोड कर सकते हैं वह भी फ्री में अगर आपके पास आईफोन है तो अब एप्प स्टोर से व्हाट्सएप को डाउनलोड कर सकते हैं और व्हाट्सएप का आनंद उठा सकते हैं चलिए अपने स्मार्टफोन में व्हाट्सएप को डाउनलोड करते हैं और मेरा स्मार्टफोन

Computer kya hai | computer meaning in hindi |types of computer

Computer introduction in hindi :-   Computer एक इलेक्ट्रॉनिक machine है, जो के रूप में सार्थक जानकारी का उत्पादन करने के लिए डेटा को संग्रहित, पढ़ता और प्रमाणित करता है   Computer kya hai?   Computer  शब्द 'गणना' शब्द से लिया गया है जिसका अर्थ है गणना करना। लेकिन आज के परिदृश्य में एक समय में एक कंप्यूटर कई अनुप्रयोगों को संभाल सकता है।  एक कंप्यूटर को डेटा processor  के रूप में भी जाना जाता है क्योंकि कंप्यूटर डेटा देने में विफल रहता है। Computer की फुल जानकारी हिंदी में -    Input :-  Computer  उपयोगकर्ता द्वारा दिए गए input को स्वीकार करता है।  यह डेटा या सूचना के रूप में हो सकता है।  कंप्यूटर को डेटा पर काम करने के लिए command दी जाती है।  यह कुछ ऑपरेशन करने के लिए एक एकल कमांड हो सकता है या चरणों की एक श्रृंखला करने के लिए निर्देशों का एक set हो सकता है। Proccessing  :- Proccessing data को निष्पादित करने के लिए आवश्यक अनुक्रमिक कदम है और सार्थक परिणाम लाने के लिए निर्देश .Proccessing  सीपीयू द्वारा किया जाता है जो data को संसाधित करने के निर्देशों को निष्पादित करता है Sto